Home Education News मेरठ: केवी स्कूल में छात्रों को सुरक्षा की दी गई जानकारी

मेरठ: केवी स्कूल में छात्रों को सुरक्षा की दी गई जानकारी

0

Loading

मेरठ: केवी स्कूल में छात्रों को सुरक्षा की दी गई जानकारी


शारदा न्यूज़, संवाददाता ।


 

  • इंटरनेशनल नंबरों से आने वाली कॉल्स के बारे में बताया गया।

  • फ्रॉड कॉल से बचने के लिए भी सुरक्षा की दी गई जानकारी।

 

मेरठ।  यूं तो आपने कई बार अपने मोबाइल पर ऐसी कॉल के बारे में सुना होगा जोकि जानकारी लेकर फ्रॉड करने में माहिर होते हैं और जरा सी चूक करते ही हमारे सारी जानकारी कॉल करने वाले के पास चली जाती है। ऐसे ही फ्रॉड कॉल के जरिए देश की सुरक्षा में सेंधमारी की जा सकती है। इसी के चलते हुए मेरठ छावनी क्षेत्र में स्थित केंद्रीय विद्यालय में विशेषज्ञों के द्वारा यहां पढ़ने वाले छात्रों को विदेशों से आने वाली कॉल के बारे में जानकारी दी गई।

 दरअसल , मेरठ के छावनी क्षेत्र में स्थित केंद्रीय विद्यालय सिख लाइंस में बच्चों को पाकिस्तानी नंबरों से आने वाली कॉल्स के लिए अलर्ट किया जा रहा है। आर्मी इंटेलिजेंस का मानना है कि दुश्मन देश अब स्कूली छात्रों के जरिए भारत की सुरक्षा में सेंधमारी कर सकते हैं। दुश्मन बच्चों को मोहरा बनाकर उनसे सुरक्षा संबंधी गुप्त सूचनाएं लेकर देश की सुरक्षा से खिलवाड़ कर सकते हैं। इसलिए आर्मी अब स्कूलों में छात्रों को सेफ्टी अलर्ट मैसेज देकर उन्हें जागरूक कर एहतियात करने की सलाह दे रही है।

ये तस्वीरें है मेरठ के केवी सिख लाइंस स्कूल की जहां स्कूल असेंबली में यहां पढ़ने वाले छात्रों को सुरक्षा की जानकारी दी जा रही है। छात्रों को इंटरनेशनल नंबरों से आने वाली कॉल्स के बारे में बताया जा रहा है। फॉल्स कॉल जिसे रिसीव नहीं करना है, किन नंबरों की कॉल उठाना है, किन नंबरों पर बात नहीं करना है इसको भी बताया जा रहा है । आर्मी के सीनियर ऑफिसर्स के अंदेशा है कि पाकिस्तान अब स्कूली बच्चों को टार्गेट करते हुए भारत की सुरक्षा में सेंधमारी कर सकता है । बच्चों से उनकी और उनके स्कूल की लोकेशन , स्टेशन का नाम, सुरक्षा घेरे से लेकर दूसरी जानकारियां जुटाई जा सकती है और इन जानकारियों को सुरक्षा के खिलाफ प्रयोग कर सकते हैं । इसलिए स्कूलों में छात्रों को विशेष रूप से अलर्ट करने का कार्य किया जा रहा है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here