Home Meerut खुल गई पोल: धंसी भ्रष्टाचार की बुनियादों पर बनी सड़क

खुल गई पोल: धंसी भ्रष्टाचार की बुनियादों पर बनी सड़क

0
  • कुटी चौराहे पर सड़क धंसने से क्षेत्र में मची अफरातफरी।

शारदा रिपोर्टर मेरठ। ऊर्जा राज्यमंत्री के आवास से कुछ ही दूरी पर कुटी चौराहे पर सड़क धंसने से क्षेत्र में अफरातफरी फैल गई। गनीमत रही कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ। सूचना पर पहुंची पुलिस ने सड़क के बीचों बीच हुए गड्ढे पर चेतावनी लगाई। इसके बाद नगर निगम की जेसीबी ने पहुंच कर धंसी सड़क की खुदाई की तो पता चला कि सीवर लाइन टूट गई है। जिसकी मरम्मत का काम चल रहा है। पहली ही बारिश में नगर निगम के दावों की पोल खुलना शुरू हो गई है।

भ्रष्टाचार की बुनियादों पर बनी सड़क एक बार फिर धंस गई और यहां से निकलने वाले लोगों को एक बार फिर खासी परेशानियां का सामना करना पड़ा। हालांकि, यह शहर की कोई आम सड़क नहीं थी। जो बरसात आने से पहले ही धंस गई। जबकि, यह सड़क तो वीआईपी इलाके की सड़कों में से एक है। जिसे कुछ समय पहले ही बनाया गया है। लेकिन मानसून की तेज बारिश तो क्या यह वीआईपी इलाके में बनी हुई सड़क हल्की सी बारिश भी नहीं झेल पाई और बीचोंबीच में से धंस गई। वहीं, अचानक बीचो-बीच से सड़क घर जाने के कारण लोगों ने अब तारा चला की बातें करनी शुरू कर दी है।

दरअसल यह वीआईपी इलाके की सड़क कहीं और कि नहीं, बल्कि तेजगढी चौराहे से पीवीएस मॉल के तरफ़ जाने वाली सड़क है। जो शुक्रवार दोपहर अचानक बीचो-बीच से धंस गई। ताजुब की बात यह है कि, इसी रोड पर ऊर्जा राज्य मंत्री डॉ सोमेंद्र तोमर का आवास है। जबकि, पूर्व सांसद राजेंद्र अग्रवाल भी इसी रोड से कुछ ही दूरी पर रहते हैं। जबकि, बताया यह भी जा रहा है कि लोक निर्माण विभाग द्वारा बनाई गई यह सड़क अभी कुछ दिनों पहले ही बनाई गई थी। लेकिन यह सड़क बनने के कुछ दिनों बाद ही धंस

गई। जो लोक निर्माण विभाग की कारगुजारी दर्शाती है। जबकि, शहर में 20 साल की गारंटी वाली सड़क के बनने का सिलसिला जारी है। बावजूद इसके वीआईपी इलाके में इस तरीके से सड़क का धंसना विभाग अधिकारियों की ना केवल लापरवाही दर्शाती है। बल्कि, विभाग द्वारा सड़क बनाने के समय पर किए गए कारनामे को भी सिद्ध करती नजर आती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here