Home Hastinapur बाढ़ के बाद अब संक्रामक रोग बने खतरा, बुखार की चपेट में...

बाढ़ के बाद अब संक्रामक रोग बने खतरा, बुखार की चपेट में लोग

0

Loading

बाढ़ के बाद अब संक्रामक रोग बने खतरा, बुखार की चपेट में लोग

  • बाढ़ ग्रस्त इलाकों में बुखार की चपेट में लोग।


शारदा न्यूज़, संवाददाता |


 

मेरठ। पश्चिम उत्तर प्रदेश में बाढ़ के बाद अब संक्रामक रोग का खतरा मंडरा रहा है। मेरठ के बाढ़ ग्रस्त इलाकों में लोग बीमार पड़ रहे हैं। उल्टी दस्त बुखार से लोग परेशान हैं। लोगों की माने तो मेडिकल मदद बाढ़ ग्रस्त इलाकों में नहीं मिल रही है। वहीं सरकारी अधिकारी मेडिकल टीम के द्वारा सर्वे का का दावा कर रहे हैं।

[videopress 1KAFsSyz]

 

 

दरअसल बता दें कि यह तस्वीरें मेरठ के हस्तिनापुर इलाके की हैं। जहां करीब 20 दिन पहले हस्तिनापुर में बाढ़ के हालात बने हुए थे। गंगा नदी में पानी खतरे के निशान के ऊपर बह रहा था। करीब 20 गांवों का संपर्क मुख्यालय से टूट गया था और गांव के घर और फसलों में पानी भर चुका था। सरकारी मदद और एसडीआरएफ के भरोसे यह लोग इन बाढ़ ग्रस्त इलाकों में रह रहे थे। काफी लोगों को रेस्क्यू भी किया गया।

अब पानी तो कम हो गया है लेकिन बाढ़ के बाद अब बीमारी के हालात बने हुए हैं। इन इलाकों में रह रहे लोगों की माने तो प्रशासनिक और स्वास्थ्य विभाग की मदद ना के बराबर है। बाढ़ के समय पर कुछ राहत सामग्री वितरित की गई थी। लेकिन अब ना तो डॉक्टर दिखाई देते हैं। और ना ही प्रशासनिक अधिकारी। वही इलाके में बीमारी फैलने पर जब मीडिया ने सवाल पूछे तो सीएमओ ने चार टीमें गठित कर दी।

सीएमओ अखिलेश मोहन की माने तो बाढ़ ग्रस्त इलाकों में एंटी लारवा छिड़काव किया जा रहा है। इसके अलावा 4 मोबाइल टीमें लगाई गई है। जो इन इलाकों में जाकर बीमारों का इलाज करेंगी। इसके अलावा एएनएम और आशा के जरिए ग्रामीण इलाकों में मेडिकल मदद पहुंचाने का काम किया जा रहा है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here