Home Delhi News प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले- “शिक्षा ही है जो देश का भाग्य बदलने...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले- “शिक्षा ही है जो देश का भाग्य बदलने की ताकत रखती है

0

Loading

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले- “शिक्षा ही है जो देश का भाग्य बदलने की ताकत रखती है


शारदा न्यूज़, समाचार डेस्क  |


नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के साथ राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के 3 साल पूरे होने के अवसर पर अखिल भारतीय शिक्षा सम्मेलन का उद्घाटन करने प्रगति मैदान के भारत मंडपम पहुंचे।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘पीएम श्री योजना’ के तहत स्कूलों के लिए धनराशि की पहली किस्त जारी की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि “शिक्षा ही है जो देश का भाग्य बदलने की ताकत रखती है। देश जिस लक्ष्य को लेकर आगे बढ़ रहा है उसमें शिक्षा की अहम भूमिका है…आप इसके प्रतिनिधि हैं…अखिल भारतीय शिक्षा समागम का हिस्सा बनना मेरे लिए भी एक महत्वपूर्ण अवसर है।”

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि “2014 से देश में शिक्षा नीति को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का दृष्टिकोण मार्गदर्शन और प्रेरणा देने का रहा है।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि “NEP ने पारंपरिक ज्ञान प्रणाली से लेकर भविष्य की तकनीक तक को संतुलित तरीके से महत्व दिया है…रिसर्च इकोसिस्टम को मजबूत करने के लिए देश के शिक्षा जगत के सभी महानुभावों ने बहुत मेहनत की है…हमारे छात्र नई व्यवस्थाओं से भली-भांति परिचित हैं, वे जानते हैं कि 10+2 शिक्षा प्रणाली की जगह अब 5+3+3+4 लाई जा रही है।”

 

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि “काशी के रुद्राक्ष से लेकर आधुनिक भारत के इस मंडप तक अखिल भारतीय शिक्षा समागम की यात्रा अपने आप में एक संदेश समेटे हुए है। यह प्राचीनता और आधुनिकता का संगम है। हमारी शिक्षा प्रणाली भारत की परंपराओं को संरक्षित कर रही है, वहीं देश आधुनिक विज्ञान और प्रौद्योगिकी में भी आगे बढ़ रहा है।”

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here