Home उत्तराखंड उत्तराखंड में बारिश का कहर, कई नदियों का बढ़ा जलस्तर

उत्तराखंड में बारिश का कहर, कई नदियों का बढ़ा जलस्तर

0

Loading

उत्तराखंड में बारिश का कहर, कई नदियों का बढ़ा जलस्तर

 

 


 

शारदा न्यूज़, समाचार डेस्क |

 

देहरादून। उत्तराखंड में मंगलवार को भी भारी बारिश का कहर जारी है। भारी बारिश के चलते देवप्रयाग, हरिद्वार और ऋषिकेश में गंगा का जलस्तर बढ़ा हुआ है। गंगा इस समय खतरे के निशान पर बह रही हैं। वहीं, यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग झर-झार गाड़ के पास ठप हो गया है।

 

उत्तरकाशी में भूस्खलन के कारण मलबे से भरी सड़क को पार करने की कोशिश में एक टेम्पो वाहन पलट गया है। यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग झर-झार गाड़ के पास ठप हो गया है। एनएचआईडीसीएल की ओर से हाईवे को खोलने का काम शुरू कर दिया गया है। जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी नंदकिशोर जोशी ने बताया कि जल्द ही हाईवे खोल दिया जाएगा।

 

 

जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी ने बताया कि जिले में बारिश के कारण हुए भूस्खलन से एक बार फिर गंगोत्री और यमुनोत्री राजमार्ग ठप हो गए हैं। मनेरी भाली बांध के पास मलबा आने से गंगोत्री राजमार्ग अवरुद्ध हो गया है।

वहीं, भारी बारिश से अलकनंदा नदी का जलस्तर बढ़ने के कारण श्रीनगर डैम में करीब तीन हजार क्यूसेक अतिरिक्त पानी आने की आशंका जताई है। वहीं, श्रीनगर डैम से पानी छोड़ने की सूचना के बाद देवप्रयाग, ऋषिकेश और हरिद्वार में अधिकारियों को सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं।

 

मौसम विभाग ने उत्तराखंड के पूरे कुमाऊं मंडल में भारी बारिश होने के आसार जताए हैं। आईएमडी ने पिथौरागढ़, बागेश्वर, अल्मोड़ा, चम्पावत, नैनीताल और ऊधमसिंह नगर के कई इलाकों में बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है, जबकि अन्य जिलों में बारिश का यलो अलर्ट है। हालांकि पूरे प्रदेश में बारिश का यलो अलर्ट है।

 

बता दें कि बीते दिन सोमवार को प्रदेश में भारी बारिश के बाद बंद हुई सड़कों को खोलने के लिए 232 जेसीबी मशीनों को लगाया गया, लेकिन पूरे दिन की मेहनत के बाद 100 सड़कों को खोलने में ही कामयाबी मिल पाई। अभी भी 275 सड़कें बंद हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here