Home CRIME NEWS मेरठ: कैंटीन संचालक की हत्या में चौंकाने वाला खुलासा

मेरठ: कैंटीन संचालक की हत्या में चौंकाने वाला खुलासा

0
हत्या

Loading

मेरठ: कैंटीन संचालक की हत्या में चौंकाने वाला खुलासा

हत्या में चौंकाने वाला खुलासा

  • किशोर ने की थी कैंटीन संचालक की हत्या !


शारदा न्यूज़, संवाददाता।


मेरठ। कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र में 27 जुलाई को कैंटीन संचालक की हत्या में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। पुलिस ने कैंटीन संचालक कमल की हत्या मामले में मध्यप्रदेश से 17 साल के एक किशोर को अरेस्ट किया है। बताया जा रहा है कि कुकर्म के शिकार किशोर ने कैंटीन संचालक की हत्या कर दी थी। पुलिस किशोर से पूछताछ कर रही है।

 

यह था पूरा प्रकरण

बता दें सरधना रोड बद्रीशपुरम कालोनी निवासी 52 साल का कमल किशोर सरधना फ्लाईओवर के नीचे देसी शराब के ठेके के बराबर में कैंटीन चलाता था। 27 जुलाई को कैंटीन में अंदर ही उसकी हत्या की गई थी। डेडबॉडी वहीं खून से लथपथ मिली थी। पुलिस ने मृतक के भाई की तहरीर पर अज्ञात और नामजद पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया था। सोमवार रात पुलिस ने इस मामले में पन्ना से एक किशोर उसके पिता को गिरफ्तार किया है।

 

गैस सिलिंडर फिर चाकू से गर्दन पर किए वार

किशोर ने बताया कि हत्या वाले दिन सुबह वो कैंटीन गया तो कैंटीन संचालक ने उसे रात को आने के लिए कहा। जब रात में किशोर कैंटीन पहुंचा तो दोनों ने बैठकर शराब पी थी। इसके बाद कैंटीन संचालक ने किशोर के साथ गलत काम किया। दोनों के बीच पैसों के लेनदेन पर बहस भी हुई। थोड़ी देर बाद कैंटीन संचालक कमल किशोर सो गया। लेकिन किशोर का मन नफरत से भर गया। इससे परेशान होकर किशोर ने पहले कैंटीन में रखे गैस सिलिंडर से कैंटीन संचालक के चेहरे पर कई वार किए फिर गर्दन पर चाकू से वार किया। इससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद देर रात घर जाकर परिजनों को बताया और बाद में घर पर ताला लगाकर पूरा परिवार मप्र चला गया।

 

सीसीटीवी से आरोपी तक पहुंची पुलिस

पूरे मामले में पुलिस इलेक्ट्रानिक सर्विलांस के जरिए आरोपी तक पहुंची। पुलिस ने आसपास के इलाके के सीसीटीवी चेक कराए। तो सरधना रोड पर एक सीसीटीवी में किशोर दिखा। पुलिस ने जब किशोर के घर जाकर पूछताछ करने का प्रयास किया तो वो फरार मिला। पूरा परिवार गायब था। इसके बाद पुलिस ने गहनता से जांच कर आरोपी को रात ही उसके पिता सहित मप्र से पकड़ा है। किशोर का परिवार यहीं गणपति मंडप के पास झोपड़ी में कई सालों से रहता है। घटना की रात उसने दो बजे घर पहुंचकर परिजनों को पूरा वाकया बताया। इसके बाद परिवार फरार हो गया।

 

नामजद लोगों को मिली क्लीनचिट

वहीं हत्याकांड में मृतक के भाई हरिओम ने रमन सोलंकी और कल्लू के खिलाफ हत्या की नामजद तहरीर दी थी। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर दोनों को हिरासत में लिया था। दो और लोगों पर भी पुलिस का शक था। इनको पुलिस ने क्लीनचिट दे दी है।

 

परिजन बोले कुकर्म नहीं रुपयों के लिए मारा

हालांकि मृतक कैंटीन संचालक के परिजनों ने किशोर से कुकर्म के आरोप को बेबुनियाद बताया है। उन्होंने कहा कि आरोपी ने बचने के लिए कुकर्म की कहानी रची है। आरोपी किशोर रुपए चुराने के चक्कर में था इसलिए उसने कैंटीन संचालक का कत्ल कर दिया। कैंटीन में काफी कैश रहता है। लेकिन हत्या वाले दिन कैंटीन में कोई कैश नहीं मिला। आरोपी सारा कैश लेकर भाग गया।

 

वहीं थाना प्रभारी अजय कुमार का कहना है कि मामले में मप्र, पन्ना से नाबालिग किशोर उसके पिता को हिरासत में लिया है। पूछताछ की जा रही है। यह किशोर कैंटीन में काम करता था। घटना की रात किशोर और कैंटीन संचालक ने मिलकर शराब पी, किशोर का आरोप है कि कैंटीन संचालक ने उससे कुकर्म भी किया। इसके बाद किशोर ने चाकू से वार कर उसकी हत्या कर दी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here