Home mausam कैराना: दूसरे दिन भी यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान से...

कैराना: दूसरे दिन भी यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर, चिंता बढी

0

Loading

कैराना: दूसरे दिन भी यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर, चिंता बढी

 

 


शारदा न्यूज़, संवाददाता |

 

कैराना। लगातार हो रही बारिश के कारण यमुना नदी खतरे के निशान से 72 सेंटीमीटर ऊपर बह रही हैं। वहीं किसानों की चिंता भी बढ़ गई हैं। वहीं प्रशासन व केंद्रीय जल आयोग की टीम लगातार यमुना किनारों पर निगरानी कर रही है।

 

दरअसल लगातार बारिश के कारण हथिनी कुंड बैराज से यमुना नदी में लाखों पानी प्रतिदिन यमुना नदी में डिस्चार्ज किया जा रहा है। जिस कारण बुधवार सुबह 11 बजे यमुना नदी का जलस्तर 232. 22 मीटर दर्ज किया गया। जबकि खतरे का निशान 231.50 मीटर पर हैं। जिसके चलते यमुना नदी खतरे के निशान से 72 सेंटीमीटर ऊपर बह रहीं हैं। वहीं यमुना नदी के लगातार दूसरे दिन भी खतरे के निशान से ऊपर बहने के कारण किसानों की चिंताएं लगातार बढ़ती जा रहीं हैं। यमुना किनारे मौजूद किसानों की सभी फसलें पूरी तरह जलमग्न हो गई है।

 

वहीं इसके अलावा बुधवार सुबह 7 बजे 1 लाख 90 हजार, 9 बजे 1 लाख 53 हजार, 10 बजे 1 लाख 42 हजार व 11 बजे 1 लाख 36 हजार क्यूसेक पानी हथिनी कुंड बैराज से यमुना नदी में छोड़ा गया। यमुना में छोड़ा गया पानी शाम तक कैराना यमुना नदी तक पहुंचेगा। जिसके बाद जलस्तर और बढ़ने की संभावना जताई गई हैं। वहीं लगातार यमुना के जलस्तर बढ़ने के कारण प्रशासन के साथ ही केंद्रीय जल आयोग की टीम भी अलर्ट हो गई हैं। सभी अधिकारी यमुना किनारे पर तैनात रहकर यमुना की स्थिति की जानकारी ले रहें हैं तथा यमुना किनारे गांवों की निगरानी करने के साथ ही किसानों व ग्रामीणों को यमुना से दूर रहने की चेतावनी दी जा रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here