Home Meerut इनवर्टर ने भी छोड़ा साथ, पंखा झलते थक गए हाथ

इनवर्टर ने भी छोड़ा साथ, पंखा झलते थक गए हाथ

ट्रांसफार्मर खराब होने से भीषण गर्मी में बिजली दे रही झटके, एक दर्जन से ज्यादा कालोनियों के लोग बिजली-पानी को तरसे.

0
Due to transformer failure, it is giving electric shocks in extreme heat.

शारदा रिपोर्टर मेरठ। गर्मी इस समय अपने पूरे चरम पर है और इस भीषण गर्मी में बिजली भी अपने पूरे नखरे दिखा रही है। मंगलवार से गुरूवार दोपहर तक शहर के अधिकांश इलाकों में बिजली आंख मिचौली करती रही। जिसके चलते शहरवासी खासे परेशान दिखाई दिए।

जबकि, मंगलवार रात से गायब हुई गंगानगर क्षेत्र के विभिन्न इलाकों की बिजली गुरूवार दोपहर बाद सुचारू हुई। जिसके चलते इस भीषण गर्मी से लोग बिलबिला गए और बिजली विभाग के कर्मचारियों और अधिकारियों को खूब कोसा। यहां तक कि गर्मी के चलते लोग बिजली के साथ साथ पानी को तरसते हुए नजर आए।

गंगानगर क्षेत्र में मंगलवार रात से बिजली नहीं है। जिनमें गंगानगर, डिफेंस कॉलोनी, कसेरू बक्सर, गंगानगर बी ब्लॉक, ए ब्लॉक, गंगा सागर ग्लोबल सिटी, गंगाधाम, गंगा ग्रीन सिटी, ग्रेटर गंगा, नवकार वाटिका, कृष्ण एनक्लेव, राज हाइट्स, गंगा हाइट्स, बद्रीनाथ धाम, कसेरूखेड़ा, न्यू मीनाक्षीपुरम, रक्षापुरम, आदिपुर पंचवटी, यश्लोक कॉलोनी, कृष्ण लोक, अमन विहार समेत गंगानगर के आसपास आने वाले अब्दुल्लापुर के पूरे एरिया में मंगलवार रात से लाइट नहीं है। यहां लगभग चालीस घंटे से ज्यादा समय से बिजली गायब रही। बिजली जाने को लेकर गंगानगर के क्षेत्रवासियों का कहना था कि, घरों में सुबह के समय लोगों को पानी तक नहीं मिला। क्योंकि, रातभर बिजली नहीं थी।

जिसके चलते लोगों काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा। क्षेत्रवासियों का यह भी कहना है कि इस भीषण गर्मी में बिजली बारबार जा रही है और लोगों को परेशान होना पड़ रहा है। लोगों ने बताया कि बिजली जाने की समस्या जानने के लिए जब लोग बिजली घर, एसडीओ या अन्य किसी विघुत कर्मचारी को फोन किया जाता है, तो वह फोन का जवाब नहीं देते हैं। वहीं, बिजली घर में तैनात जेई राहुल सिसोदिया से लोगों ने बात की तो पता चला कि मंगलवार रात को गंगानगर स्थित विद्युत उपखंड द्वितीय पर रखा ट्रांसफार्मर ओवरलोड होने के कारण फुंगया। जिसके चलते लोगों को इस समस्या का सामना करना पड़ा।

मंगलवार रात से गई बिजली बुधवार शाम तक भी नहीं आई, जिसके चलते लोगों के इनवर्टर भी साथ छोड़ गए। हालात ऐसे रहे कि लोग बिलबिला उठे। हाथ के पंखे झलते-झलते लोगों के हाथ थक गए। बुधवार रात करीब दस बजे रामपुर से नया ट्रांसफार्मर लाया गया। जिसे स्थापित कर शुरू करने की प्रक्रिया में विभाग को 14 घंटे लग गए। दोपहर में करीब 12 बजे विद्युत आपूर्ति सुचारू हुई।

निजी कालोनी वालों ने जेनरेटर चलाए ट्यूबवेल

गंगानगर की निजी कालोनी वालों ने अपने यहां जलापूर्ति के लिए जेनरेट की व्यवस्था की। लेकिन निजी कालोनियों से बाहर रहने वाले नहाना तो दूर पीने के पानी को भी तरस गए।

 

गंगानगर बिजली घर का ट्रांसफार्मर ओवरलोड़ होने के कारण शार्ट हो गया था। जिसे ठीक करने की कोशिश की, लेकिन काफी समय बाद भी ट्रांसफार्मर ठीक नहीं हो पाया। उन्होंने बताया कि लोगों की इस समस्या को देखते हुए गंगानगर बिजली घर में नया ट्रांसफार्मर लगाया जा रहा है। उम्मीद की जा रही है कि, जल्द ही लोगों के घरों तक विघुत आपूर्ति पहुंचाई जाएगी। – ईशा दुहन, एमडी पॉवर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here