Home Meerut सेना और महावीर विश्विद्यालय की पहल को कमिश्नर ने सराहा

सेना और महावीर विश्विद्यालय की पहल को कमिश्नर ने सराहा

0
  • शिविर में 230 लोगो के स्वास्थ्य की जांच हुई।

शारदा रिपोर्टर मेरठ : सेना के शहीदों की वीरांगनाओं के सम्मान और उनके आजीवन निशुल्क इलाज का सेना के साथ महावीर यूनिवर्सिटी ने जो बीड़ा उठाया है उसको कमिश्नर मेरठ मंडल सेल्वा कुमारी जे ने खूब सराहा। उन्होंने इस पहल की जमकर तारीफ की और कहा कि वीरांगनाओं और परिवारों के लिए जो पहल की गई वो मील का पत्थर साबित होगी।

कमिश्नर सेल्वा कुमारी जे के साथ सीडीओ नुपुर गोयल और पाईं डिविजन के अफसर भी मौजूद रहे। सभी ने महावीर यूनिवर्सिटी के आयुर्वेदिक कैंप का निरीक्षण किया और सेना के परिवार के लोगों से भी बात की।

मुख्य अतिथि ब्रिगेडियर निखिल देशपांडे ने अपने संबोधन में कहा कि सैनिक परिवार कोई स्वास्थ संबंधित कोई भी परेशानी होने पर मिलिट्री हॉस्पिटल या एलोपैथिक डॉक्टर के पास भागते हैं कि दवाई खाते ही जल्दी राहत मिले। मगर जो हमारे देश की परंपरा है योग और आयुर्वेद उसे पश्चिमी देश सीख रहे हैं और उन्हें देख फिर से सीख रहे हैं। जबकि उल्टा होना चाहिए मगर देर आए दुरुस्त आए। इस तरह के कैंप से आयुर्वेद का महत्व और बढ़ जाता है। आयुर्वेद का कोई साइड इफेक्ट नहीं और लंबे समय तक फायदा रहता हैं। प्राचीन साहित्य को आयुर्वेद को अपनाए और आयुर्वेद को अपने जीवन का हिस्सा बनाए। इस तरह के कैंप आगे भी चलते रहेंगे जिससे इस तरह के कैंपों से आयुर्वेद के प्रति ज्यादा जान सकेंगे।

कार्यक्रम में संबोधन के बाद कमिश्नर सेल्वा कुमारी जे , ब्रिगेडियर निखिल देशपांडे, विशिष्ट अतिथि सीडीओ नूपुर गोयल, मुख्य अतिथि निखिल देशपांडे ने महावीर विश्विद्यालय के डायरेक्टर तेजस भारद्वाज के साथ चिकित्सा कैंप में लगे स्टॉल का निरीक्षण कर डॉक्टरों और जांच कराने आए लोगो से बात की।

 

 

मंगलवार को महावीर मेडिकल कॉलेज द्वारा लगाए गए कैंप में देश के अलग अलग बॉर्डर पर तैनात सैनिकों के परिवारों ने कैंप में पहुंच कर अपनी जांच कराई। इसके साथ ही कार्यक्रम में उपस्थित मुख्य अतिथि निखिल देशपांडे (स्टेशन कमांडर मेरठ) , ब्रिगेडियर अमित चांद, कर्नल कृष्ण कांत बाजपाई कार्यक्रम में मौजूद सेना के सभी उच्चाधिकार और जवानों ने भी अपनी जांच कराई और महावीर विश्वविद्यालय के कुलपति यश कौशिक , तेजस भारद्वाज अनुराग शर्मा अभिषेक कौशिक 30 से अधिक डॉक्टर और इंटर्न्स भी कार्यक्रम में मौजूद रहे| मंगलवार को कैंप में लगे काउंटर में मेडिसिन विभाग में 54, पंचकर्म विभाग में 65, ईएनटी विभाग में 26, शल्य विभाग में 40 और गायनी विभाग में 45 लोगो ने अपनी जांच कराई। कुल 230 लोगो के स्वास्थ की जांच की गई।

महावीर विश्विद्यालय के डायरेक्टर तेजस भारद्वाज ने कहा कि विश्विद्यालय अपनी शुरुआत से ही आम लोगो के लिए हेल्थ कैंप लगाया रहा है मगर देश के शहीदों की वीर नारियों और सेना के जवानी व उनके परिवारों के लिए लगाया गया ये कैंप अपने आप में विश्विद्यालय के लिए सबसे विशेष है। देश की सेना के लिए कुछ करने का अवसर मिलना गर्व की बात है। विश्विद्यालय की यह मुहिम जारी रहेगी और आगे हम इसे और बड़े स्तर पर चलाएंगे।

 

यह खबर भी पढ़िए-

भारतीय सेना और महावीर विवि ने मिलकर किया वीर नारियों का सम्मान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here