Home CRIME NEWS मुजफ्फरनगर: माफिया सुशील मूंछ पर बड़ी कार्रवाई

मुजफ्फरनगर: माफिया सुशील मूंछ पर बड़ी कार्रवाई

0

Loading

मुजफ्फरनगर: माफिया सुशील मूंछ पर बड़ी कार्रवाई

  • माफिया सुशील मूंछ पर बड़ी कार्रवाई

 

शारदा न्यूज़, संवाददाता |

 

मुजफ्फरनगर। अपराध की दुनिया के बड़े-बड़े नामों को मिट्टी में मिलाने के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के रडार पर अब पश्चिम के कई कुख्यात माफिया सरगना है, जिनमें एक नाम सूबे के घोषित माफिया सुशील मूंछ भी शामिल है। सरकार के निर्देश पर मुजफ्फरनगर जिला और पुलिस प्रशासन ने सुशील मूंछ और उसके गैंग का काम तमाम करना शुरू कर दिया है।

पुलिस ने गैंगस्टर की धारा 14 (1) के तहत मूंछ की करीब 90 करोड़ की संपत्ति को कुर्क करने की कार्रवाई शुरू कर दी है। हालांकि करीब 11 करोड़ की संपत्ति को पहले ही कुर्क किया जा चुका है, लेकिन मंगलवार से बाकी 78.57 करोड़ की संपत्ति को कुर्क करना भी शुरू कर दिया है। सभी संपत्तियां सुशील मूंछ के रिश्तेदारों के नाम पर दर्ज है।

पुलिस लाइन में आयोजित प्रेस कांफ्रेस में मीडिया को संबोधित करते हुए एसएसपी संजीव सुमन ने जानकारी देते हुए बताया कि रतनपुरी थाना इलाके के मथेड़ी गांव निवासी सुशील उर्फ मूंछ उत्तर प्रदेश का घोषित माफिया है। सुशील मूंछ द्वारा अपराध से अर्जित किए गए धन से करीब 90 करोड़ की संपत्ति अपने रिश्तेदारों, उनके परिवार और सहयोगियों के नाम पर खरीदी। शासन के निर्देश पर गैंगस्टर एक्ट के तहत सुशील मूंछ की चल-अचल संपत्ति को करीब 2-3 महीनों की मेहनत के बाद ट्रेस किया गया। मूंछ की 78.57 करोड़ की संपत्ति को कुर्क करने की कार्रवाई आज से शुरू हो गई हैं। दो-तीन दिन के अंदर सारी संपत्ति को कुर्क कर लिया जाएगा। जिनमें पेट्रोल पंप, आवासीय भवन, खेत और बाग शामिल है। करीब 11 करोड़ की संपत्ति को पहले ही कुर्क किया जा चुका हैं।

एसएसपी संजीव सुमन ने बताया कि सुशील मूंछ बहुत स्मार्ट है। उसने अपने नाम पर कोई भी संपत्ति नहीं रखी। सारी संपत्ति उसके रिश्तेदारों के नाम पर दर्ज है। संपत्ति को मामा के बेटे, उनके परिवार और सहयोगियों के नाम से खरीदी गई है।

एसएसपी संजीव सुमन ने ये भी जानकारी दी कि अपराध से अर्जित की गई इन संपत्तियों के व्यस्थान के लिए कई फर्जी पैन कार्ड भी बनवाए गए हैं, ताकि पकड़ में ना आ सके।

एसएसपी ने सुशील मूंछ की अर्जित संपत्ति के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि अभी तक ट्रेस की गई सारी संपत्ति मुजफ्फरनगर जिले में अलग-अलग स्थानों पर स्थित है। भोपा इलाके के करहेड़ा में 8.625 हैक्टेयर कृषि भूमि, ककरौली इलाके के बेहड़ा सादात में 2.3771 हेक्टयर के अलावा 1200 वर्ग मीटर भूमि सुशील मूंछ के रिश्तेदार के नाम पर अंकित है। भोपा थाना इलाके के ककराला में 7.0664 हेक्टेयर, ककरौली में 29.13616 हैक्टेयर भूमि भी उसके रिश्तेदार के नाम पर ही है। नई मंडी इलाके के अलमासपुर में 548.78 वर्गमीटर में बना आवास, कूकड़ा में 2.217 हैक्टेयर कृषि भूमि, बीबीपुर में 1.119 हैक्टेयर कृषि भूमि एवं 780 वर्गमीटर आवासीय भूमि भी सुशील मूंछ की ही है। एसएसपी के मुताबिक, ककरौली में एक पेट्रोल पंप और एक स्कूल की बिलि्ंडग, नई मंडी इलाके में दो आवासीय मकान के अलावा दो डंफर और 3 टैंकर भी कुर्की की जद में है।

एसएसपी संजीव सुमन बताते हैं कि माफिया सुशील मूंछ के खिलाफ यूपी और उत्तराखंड के अलग-अलग थानों में कुल 49 मुकदमें दर्ज हैं। ये मुकदमें हत्या, रंगदारी, हत्या की कोशिश, धोखाधड़ी और गैंगस्टर जैसे संगीन अपराधों में दर्ज है। मूंछ के खिलाफ सबसे पहला मुकदमा 1983 में मेरठ के सिविल लाइंस थाने में हत्या का दर्ज हुआ था। माफिया सुशील मूंछ फिलहाल जमानत पर जेल से बाहर है, लेकिन वो कहां है? इसकी किसी को जानकारी नहीं है। 6 अगस्त 2022 को अंबेडकर नगर जेल से जमानत रिहा होने के बाद से सुशील मूंछ अंडरग्राउंड है।

एसएसपी संजीव सुमन के मुताबिक माफिया सुशील उर्फ मूंछ एचएस नंबर-18 ए का प्रदेश स्तर पर आईएस-119 गैंग पंजीकृत है। जिसमें कुल 52 आपराधिक सदस्य हैं। जिनमें ढाई लाख का इनामी बदमाश बदन सिंह उर्फ बद्दो पर 15 मुकदमे दर्ज हैं। सुशील मूंछ का बेटा टोनी उर्फ मंजीत भी गैंग का सक्रिय सदस्य है, जिसके खिलाफ 9 अभियोग पंजीकृत हैं। माफिया सुशील मूंछ के गांव मथेड़ी थाना रतनपुरी, जिला मुजफ्फरनगर निवासी अजीत और मोंटी उर्फ विचित्र भी गिरोह के सदस्य है। दोनों के खिलाफ 4-4 मुकदमें दर्ज हैं। काफी दिनों से फरार चल रहा सतेंद्र बरवाला मूंछ गैंग का शातिर सदस्य है। इसके खिलाफ 43 मुकदमें दर्ज हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here