Home CRIME NEWS मेरठ में पुलिस की सुपारी किलर से मुठभेड़, पैर में गोली लगने...

मेरठ में पुलिस की सुपारी किलर से मुठभेड़, पैर में गोली लगने से आरोपी घायल, पढ़िए पूरी खबर

0
मुठभेड़

Loading

मेरठ में पुलिस की सुपारी किलर से मुठभेड़, पैर में गोली लगने से आरोपी घायल, पढ़िए पूरी खबर 

मुठभेड़


शारदा न्यूज, संवाददाता |


मेरठ। सिविल लाइन थाना क्षेत्र में पुलिस की सुबह पांच बजे सुपारी किलर से मुठभेड़ हो गई। मुठभेड़ के दौरान पुलिस की गोली आरोपी के पैर में लगने से घायल हो गया। घायल को इलाज के लिए मेडिकल अस्पताल भेज दिया गया है। पुलिस पूछताछ में जुटी हुई है।

 

आरोपी कीड़ा की घेराबंदी करते हुए चेकिंग अभियान

सिविल लाइन थाना पुलिस को गुरुवार सुबह करीब 5:00 बजे मुखबिर द्वारा सूचना मिली। स्क्रैप कारोबारी लिसाड़ी गेट निवासी जलालुद्दीन को गोली मारने वाला आरोपी काशिफ उर्फ कीड़ा सिविल लाइन थाना क्षेत्र की ओर से मवाना की ओर बाइक से जा रहा है। पुलिस ने आरोपी की घेराबंदी करते हुए चेकिंग अभियान चला दिया। इस दौरान एक बाइक सवार को रुकने का इशारा किया, तो बाइक सवार ने पुलिस टीम पर गोली चला दी। इस दौरान पुलिस की जवाबी कार्रवाई में सुपारी किलर के पैर में गोली लगने से घायल हो गया। पुलिस ने घायल को इलाज के लिए अस्पताल भर्ती कराया है।

वहीं पुलिस पूछताछ में आरोपी काशिफ उर्फ कीड़ा ने बताया कि वह लिसाड़ी गेट का रहने वाला है। उसने 15 अगस्त को 50 हजार की सुपारी लेकर स्क्रैप कारोबारी जलाउद्दीन को जान से मारने की नीयत से गोली मारी थी। सिविल लाइन थाना पुलिस आरोपी कीड़ा से पूछताछ में जुट गई है।

कारोबारी जलालुद्दीन को गोली मारकर किया घायल

दरअसल सीओ सिविल लाइन अरविंद चौरसिया ने बताया कि आरोपी काशिफ उर्फ कीड़ा ने 15 अगस्त को लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र के रहने वाले स्क्रैप कारोबारी जलालुद्दीन को गोली मारकर घायल कर दिया था। लिसाड़ी गेट पुलिस आरोपी के खिलाफ मुकदमा कायम कर आरोपी की तलाश कर रही थी। लेकिन आरोपी पुलिस को चकमे दे रहा था।आरोपी पर लिसाड़ी गेट थाने में पहले भी 307 जैसी गंभीर धाराओं में मुकदमे हैं।

 

फायरिंग हाईअलर्ट के बीच की थी 

आरोपी काशिफ ने 15 अगस्त को हाईअलर्ट के बीच सरेआम स्क्रैप कारोबारी पर फायरिंग कर दी थी। घायल कबाड़ कारोबारी दरअसल अपने बड़े भाई हाजी बिलाल की हत्या में पैरवी कर रहा है। बड़े भाई की हत्या में हाजी बिलाल की पत्नी नाजमा से विवाद चल रहा है। 4 मई 2022 को बिलाल की हत्या गाजियाबाद के लोनी में की गई थी। जिसमें नाजमा के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया गया था। इसके बाद पुलिस ने नाजमा को जेल भेज दिया था। बड़े भाई बिलाल की हत्या में जलालुद्दीन और दूसरा छोटा भाई ग्यासुद्दीन दोनों पैरवी कर रहे हैं। 15 अगस्त को जब जलालुद्दीन अपने दूसरे मकान इंचौली के कुंआ पट्‌टी गए थे वहां से लौटते वक्त सिविल लाइन थाना क्षेत्र के भगत लाइन के पास बाइक से आए दो बदमाशों ने जलालुद्दीन को पीछे से पांच गोली मारी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here