Home Meerut मेरठ: किसानों की समस्याओं को लेकर भारतीय किसान यूनियन ने निकाला ट्रैक्टर...

मेरठ: किसानों की समस्याओं को लेकर भारतीय किसान यूनियन ने निकाला ट्रैक्टर मार्च

0

Loading

मेरठ: किसानों की समस्याओं को लेकर भारतीय किसान यूनियन ने निकाला ट्रैक्टर मार्च

  • पश्चिमांचल विद्युत निगम के कार्यालय पर पहुंचकर किया धरना प्रदर्शन और पंचायत।


शारदा न्यूज़, संवाददाता।


 

मेरठ। आज शुक्रवार को भारतीय किसान यूनियन ने किसानों की समस्याओं को लेकर देहात से शहर तक ट्रैक्टर मार्च निकाला और मेरठ के पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम के कार्यालय ऊर्जा भवन पर सैकड़ो की संख्या में पहुंचकर धरना प्रदर्शन और पंचायत की।

 

 

 

दरअसल आपको बता दें भारतीय किसान यूनियन द्वारा किए गए धरना प्रदर्शन और पंचायत में बिजली, गन्ना ,आवारा पशु ,सहित कई समस्याएं उठाई गई। भारतीय किसान यूनियन का ट्रैक्टर तिरंगा मार्च मेरठ की कई तहसीलों से होकर मेरठ के पश्चिमांचल बिजली विभाग के कार्यालय ऊर्जा भवन पहुंचा जहां सैकड़ों की तादाद में किसानों ने धरना प्रदर्शन और पंचायत की। बाकायदा किसानों ने ट्रैक्टर ट्रॉली पर खाट बिछाई ,मुड़े बिछाए और हुक्का पीते हुए यात्रा में शामिल हुए। किसानों की इस यात्रा से काफी देर शहर में जाम की स्थिति उत्पन्न हो गई।

 

-चरण सिंह ( किसान नेता भारतीय किसान यूनियन )

 

वहीं किसान यूनियन से जुड़े चरण सिंह ने बताया कि किसानों की समस्या को लेकर आज पंचायत की गई है बिजली का मुद्दा है, गन्ना भुगतान का मुद्दा है, गांव में बिजली के बिल दिए जा रहे हैं जबकि किसान एक एक पंखा और बल्ब जला रहा है और 40 से 42 हजार रुपए के बिल दिए जा रहे हैं। बाढ़ से जो फसलों का नुकसान हुआ है उसकी भरपाई होनी चाहिए। गन्ना भुगतान का भी मुद्दा है, 10 साल पुराने ट्रैक्टरों को बंद करने के आदेश है वह भी मुद्दा है। जो भी अधिकारी आएंगे हम उनसे अपनी बात रखेंगे, यह 1 दिन के लिए ट्रैक्टर मार्च निकाला गया था 15 अगस्त तक हमारा प्रोग्राम चलता रहेगा हर जिले में प्रदेश में हमारा प्रोग्राम है। जिन ट्रैक्टरों को बंद करने की बात की जा रही है वह हम चला कर दिखाते हैं सबको।

 

(1) ट्रैक्टर तिरंगा मार्च में मुद्दे।

(2) बाढ़ एवं नदी के पानी के कारण प्रभावित किसानों के मुआवजे की मांग।

(3) जिले के गन्ना भुगतान की मांग।

(4) बिजली से संबंधित समस्याएं।

(5) सिंचाई से संबंधित समस्याएं।

(6) तहसील में भ्रष्टाचार की समस्या।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here